UN ने दिया क’श्मीर के बाद CAA पर बड़ा बयान, बोले- भारत में मु’स्लिमों को लेकर चिं’ता है और ..

मोदी स’रकार के फैसले पर संयु’क्त रा’ष्ट्र ची’फ ने एक बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि भारत मे रह रहे मुस्लि’मो को लेकर वह चिंति’त है। दरअसल, पाकि’स्तान के दौरे पर आए सं’युक्त रा’ष्ट्र प्रमुख’ एंटोनि’यो गुटरे’स ने ज’म्मू क’श्मीर के बाद अब भारत मे नागरि’कता संशो’धन का’नून को लेकर बड़ा बयान दिया है। भा’रत सरका’र की ओर से इस का’नून के खि’लाफ लगा’तार विरो’ध प्रदर्श’न जारी है ।

इसी के साथ साथ कई देशों ने भी इस का’नून का वि”रोध किया है। पाकिस्तान के डॉन अखबार के मुताबिक, उन्होंने इंटरव्यू में कहा है कि नाग’रिकता कानू’न की वजह से 20 लाख मुस्लि’मो को देश से बाहर होने का खतरा है। इसमें ज्यादातर मु’स्लिम है।गुटरेस ने कहा है कि अगर दोनो देश सहमत हो तो वह मध्य’स्थता करने के लिए तैयार है।

गुट’रेस ने ज’म्मू’ क’श्मीर को लेकर जो बात कही थी उस पर विदेश मंत्रा’लय के प्रवक्ता ने कहा कि कश्मीर मुद्दे पर किसी तीसरे पक्ष की कोई भू’मिका नही है। गुटरेस ने पा’किस्तान के विदेश मंत्री शाह महमुद कुरैशी के साथ बैठक की थी।आपको बता दे, भारत पहले ही अमेरिका को मध्यस्थ’ता के लिए मना कर चुका है । अमेरि’का की तरफ से दोनों देशों के बीच मध्यस्थता को लेकर कश्मी’र मुद्दे को लेकर बात कही थी।

बता दे, तु’र्की के राष्ट्रपति भी पिछले दिनों पाक दौरे पर आए थे तो उन्होंने कहा था कि वो कश्मी’र मुद्दे को लेकर चिंतित है । तुर्की सदर एर्दोगन ने ये भी कहा था कि क’श्मीर का मुद्दा न्याय के द्वारा ही हल किया जा सकता है । और इसे दोनों देश बैठ कर सुलझाए ।

Leave a Comment