UN के बाद तु’र्की ने किया डो’नाल्ड ट्र’म्प की “डील ऑफ़ सेंचुरी” का कड़ा वि’रोध, बोले- इसे न’हीं मानेंगे क्योंकि …

डी’ल ऑ’फ द सें’चुरी इस सदी की सबसे बड़ी डी’ल ‘मानी जा रही है। जिसमे उन्होंने ये’रुश’लम को इ’ज’राइ’ल को राजधानी बनाने का प्रस्ता’व पेश किया हैं। इसके साथ ही अ’मेरि’का ने गो’लान की पहा’ड़ियों , सु’मेरा , जू’डी , जॉर्ड’न वेली और येरु’शलम को इस रा इल को दे’ने की बात कही । बता दे फि’लि”स्तीन में ई’साइयों, यहू’दियों और मु’स्लिमो का पवि’त्र स्थल है । और येरुशलम को लेकर भी वि’वाद बहुत पुराना है।

अमे’रिका के राष्ट्र’पति ने इजराइल ओर फिलि’स्तीन के बीच सम’झौता कराने के लिए एक डील ऑफ द सेंचु’री को पेश किया है।इससे पहले बीते साल अमेरि’का येरु’शलम को इज’राइल की राज’धानी घोषित कर चुका है। इसी बीच डी’ल ऑफ द सेंचुरी को लेकर बहरीन ,यूईए और ओमान ने ट्रम्प’ का सहयोग किया है। तु’र्की समेत संयु’क्त राष्ट्र ने डील ऑफ द सेंचुरी को खारिज कर दिया है।

ट्र’म्प ने संयु’क्त रा’ष्ट्र और अंतरा’ष्ट्रीय समुदाय द्वारा अपनाए गए दो राज्य स’मा’धान की उपेक्षा की है। बता दे कि फि’लिस्ता’नी ने इस का वि’रो’ध किया है। फि’लिस्ता’नी के राष्ट्र’पति महमूद अब्बास ने ट्रम्प के इस प्लान को खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि हमारे नेता और जन’ता इसका शां’ति’पूर्ण त’रीके से वि’रो’ध करते रहेंगे। बता दे कि ट्रम्प ने 28 जनवरी को व्हा’इट हाउस में इज’राइ’ल के प्रधा’नमंत्री के साथ बैठक की थी।

जिसमें कहा कि हम इसका विका’स करेंगे। अमेरिका ने बीते साल 12 मई 2019 को तेल अवीव में अपना दूता’वास खोला था। फि’लि’स्ता’न और इज’राइ’ल म’सले पर संयु’क्त रा’ष्ट्र की तरफ से बड़ा बया’न सामने आया है उन्होंने कहा है कि डील ऑफ द सें’चुरी विबा’द को अं’तराष्ट्रीय का’नून और दोनो देशो के आपसी सहयो’ग से सुल’झाया जा सकता है।सं’यु’क्त राष्ट्र ने कहा है कि वह इ’जराइ’ल ओर फिलि ‘स्ता’न से जुड़े डी’ल ऑ’फ द सेंचु’री विवा’द को सु’लझाने के लिए पूरी तरह से तैया’र है।

संयु’क्त रा’ष्ट्र ने यह भी कहा कि 1967 से रह रहे दोनो देश की सी’माओं को लेकर अमे’रिकी राष्ट्र’पति ने जो ताजा डी’ल की है वह उनकी तरफ है, न कि अं’तररा’ष्ट्रीय स्तर पर है । उन्होंने कहा कि वह ट्र’म्प की यह डी’ल को नही मानते है। क्योंकि यह डील दोनो देशो की आपसी सह’मति और वार्ता के बगैर भी सु’लझ सकता है। बता ‘डे’ज़ यह डी’ल 1967 में हुए अंत’राष्ट्रीय सी’मा स’न्धि का पूरी तरह से उ’ल्लं’घन करता है। जिसका कई मु’स्लि’म देशों का वि’रो’ध सा’मने आ रहा है ।

Leave a Comment